Functioning of CHILDLINE ::

चाइल्डलाइन की कार्य पद्धति ::

चाइल्डलाइन केद्र में जब भी कोई कॉल आता है तो उसी शिफ्ट में काम करने वाला टीम का कोई सदस्य फोन पर उत्तर देता है जिससे यह निश्चित हो जाता है की फ़ोन आ रहे है, वे चोबीस घंटे रिसीविंग केन्द्रों पर फ़ोन आ रही है.

यह कॉल पर निर्भर करता है की वह किसी बच्चे के द्वारा की गई है या वयस्क द्वारा. उसके अनुसार सदस्य प्रभारी रूप से काम करता है. यह जवाब या तो बच्चे से मिलने का हो सकता है और फिर उसे चिकित्सा सहायता, आश्रय, वापस घर पहुँचाना, मुसीबत से छुड़ाने का हो सकता है.

यदि टीम के सदस्य को ऐसा लगे की बच्चे के पास तुरंत पहुँचने में देर हो सकता है, तो वह किसी सहायक संस्था से सहायता ले सकता है जो कॉल करने वाले के आस पास हो. आपातकालीन मध्यस्थता के बाद चाइल्डलाइन के द्वारा कुछ निर्णय लिए जाते है जैसे बच्चे को दीर्घकालीन पुनर्वास में भेजा जय इसमें उन दूसरी संस्थाओं के तंत्र जाल का भी दखल होता है जो विशेष सेवाएं देती है.

इस सम्पूर्ण प्रक्रिया में कॉल का जवाब देने से पुनर्वास तक बच्चे की भागीदारी एक अभिन्न अंग है.

सरकारी एवं गैर सरकारी संस्थाओं के साथ समन्वय चाइल्डलाइन अकेले काम नहीं करता है. यह जिला में अन्य सम्बंधित विभागों जैसे- शिक्षा, स्वास्थ्य, प्रशासन, बाल कल्याण, बाल सुधर गृह, सामुदायिक संगठनों कॉर्पोरेट संस्थाओं वालंटियर्स आदि के साथ मिल कर काम करता है.

Flow Chart

This template downloaded form free website templates